क्या होता है जब प्रैग्नेंसी में हो जाए आयरन की कमी ?

Saturday, June 17, 2017 5:18 PM
क्या होता है जब प्रैग्नेंसी में हो जाए आयरन की कमी ?

पंजाब केसरी (पेरेंटिंग) : गर्भावस्था के दौरान महिलाओं के शरीर में कई तरह के परिवर्तन देखने को मिलते हैं। इस अवस्था में उनके शरीर को सभी पोषक तत्वों की जरूरत होती है। ऐसे में किसी एक की भी कमी हो जाने पर गर्भवति महिला और उसके बच्चे को काफी परेशानी होती है। प्रैग्नेंसी में ज्यादातर महिलाओं के शरीर में अायरन की कमी के कारण खून कम हो जाता है जिस वजह से उनके शरीर में कमजोरी और एनिमिया की समस्या देखने को मिलती है। आइए जानिए शरीर में आयरन की कमी होने के कारण, लक्षण और उसके परिणाम



लक्षण - 
 तनाव
चक्कर आना और बेहोशी
अत्यधिक थकान
सांस फूलना
दिल की धड़कन बढ़ना
बालों का झड़ना
चेहरा पीला पड़ जाना  
 
कारण - 
1. गर्भावस्था के दौरान शरीर को आयरन की दोगुनी जरूरत होती है। अायरन की अधिक खपत की वजह से शरीर में इसकी कमी हो जाती है।
2. महिला के शरीर में विटामिन बी और फोलिक एसिड की भरपूर मात्रा न होने के कारण भी आयरन की कमी हो जाती है।
3. प्रैग्नेंसी के दौरान जब महिलाएं अायरन सप्लीमैंट्स के साथ कैल्शियम का सेवन करती हैं तो उनका शरीर आयरन का अवशोषण सही तरीके से नहीं कर पाता जिस वजह से शरीर में आयरन की कमी हो जाती है।



आयरन की कमी के प्रभाव -
बच्चे का विकास
गर्भावस्था में आयरन की कमी हो जाने पर एनिमिया की समस्या हो जाती है जिस वजह से भ्रूण का सही तरीके से विकास नहीं हो पाता।

परिमेच्योर डिलिवरी
आयरन की कमी होने पर बच्चे की समय से पहले डिलिवरी हो सकती है।

इम्यूनिटी
प्रैग्नेंंट महिला में आयरन की कमी हो जाने पर होने वाले बच्चे की रोग प्रतिकोधक क्षमता कमजोर हो जाती है जिस वजह से जन्म के बाद बच्चे को कई तरह की इंफैक्शन हो सकती है।


 



विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें !