बेटे को ऐसे सिखाएं सफल पति बनने के गुण!

Wednesday, September 6, 2017 12:18 PM
बेटे को ऐसे सिखाएं सफल पति बनने के गुण!

मां के लिए अपना बेटा दुनिया मे सबसे प्यारा होता है। मां-बेटे में भावनात्मक रिश्ता बेटे के बचपन से ही जुड़ जाता है। यह भी सच है कि बेटे की व्यस्त रहने और उसकी शादी होने के बाद भी मां उसके साथ भावनात्मक रिश्ता बनाएं रखना चाहती है। परन्तु वह यह कभी नहीं चाहती कि उसका बेटा सफल पति बनने में असफल हो जाए। शादी के बाद लड़के का फर्ज अपनी पत्नी के प्रति भी उतना ही होता है जितना मां के प्रति। बेटे को एक पति और पुत्र दोनों की सफल जिम्मेदारी समझाना मां का फर्ज होता है और बेटा का कर्तव्य। आइए जानते है आप अपने बेटे को सफल बेटा होने के साथ-साथ सफल पति कैसे बना सकती है। 

 

- माना की मां के साथ समय बिताना भी जरूरी है लेकिन पति को भी प्रोपर टाइम दें। बल्कि मां के साथ टाइम बिताने के लिए पत्नी को भी बीच-बीच में घूमाने ले जाएं। 

PunjabKesari

- बहू तो अपने मायके से घरेलू जीवन के कर्तव्य सीख कर आती है लेकिन बेटे दोस्तों से तो केवल वैवाहिक जीवन के तौर-तरीके ही सीखता है पर पारिवारिक और पतिधर्म को सिखाना तो मां का ही फर्ज है।

PunjabKesari

- मां जो कमियां अपने पति में देखती है, वे कमियां उसके बेटे में न आए। इस बात का ध्यान रखकर बेटे को अपने पिता की ही तरह पति धर्म को अच्छी तरह निभा सकने की शिक्षा दें। 

PunjabKesari

- मां का प्यारा लाड़ला किसी का अच्छा पति भी बन सकें। इसके लिए मां को समझना चाहिए कि प्रत्येक रिश्ते की अपनी एक सीमा होती है। चाहे वह रिश्ता मां-बेटे का ही क्यों न हो। मां को अपने बेटे के जीवन में अनावश्यक दखल नहीं देना चाहिए।

PunjabKesari

- बेटे को हमेशा अपने आंचल से बांधकर न रखें नहीं तो वह कभी भी एक सफल और  आदर्श पति नहीं बन पाएगा। उसे पतिधर्म निभाने का मौका भी दें। 


 



विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें !