Healthy रहना है तो करें मोबाइल का सही इस्तेमाल

Saturday, August 12, 2017 6:23 PM
Healthy रहना है तो करें मोबाइल का सही इस्तेमाल

आज के समय में शायद ही कोई शख्स ऐसा होगा जो मोबाइल का इस्तेमाल नहीं करता। यह कहना गलत नहीं होगा कि हमारे बहुत सारे काम मोबाइल पर ही निर्भर है। हमारी युवा पीढ़ी तो बिस्तर पर भी इसका साथ नहीं छोड़ती। भले ही हमारे मॉडर्न लाइफस्टाइल में मोबाइल बहुत अहम रोल निभा रहा है और दूर के रिश्तों में भी नजदीकियां बनाए रखने का अच्छा साधन है लेकिन इस बात को भी नकारा नहीं जा सकता कि इससे कुछ ऐसी रेडिएशन्स निकलती हैं जो सेहत पर बुरा प्रभाव डालती हैं।

रेडिएशन मानव स्वास्थ्य के लिए बेहद खतरनाक है। कैंसर, रक्त संबंधी बीमारियां और त्वचा रोगों के लिए रेडिएशन को ही जिम्मेदार माना जाता है इसलिए इसके इस्तेमाल के समय आपको कुछ सावधानियां बरतने की जरूर है ताकि आप और आपका परिवार इससे होने वाली समस्याओं से सुरक्षित रहे।

-ज्यादातर लोग इसे शर्ट और पेंट की पॉकेट में रखते हैं। अगर आप भी ऐसी कोई गलती कर रहे हैं तो जरा सतर्क हो जाए। इसे शरीर से दूर ही रखें। 

-कुछ लोग घंटों तक मोबाइल कान से चिपकाए रखते हैं। ऐसा ना करें। इससे निकलने वाली रेडिएशन दिमाग पर बुरा असर डाल सकती है, जितना हो सके स्पीकर पर बात करें या ब्लूटूथ का इस्तेमाल करें।

-चश्मा लगाए हुए और अगर बाल गीले हो तो मोबाइल का इस्तेमाल ना करें।

- रात को सिर के पास और सीने से मोबाइल फोन दूर रखकर सोएं। 

- अगर नेटवर्क सही ना हो तो बात ना करें क्योंकि इस समय रेडिएशन काफी तेजी से सिग्नल को पकड़ने की कोशिश करते हैं जो सेहत पर बुरा असर डालती है। 

-चलते हुए मोबाइल पर बात ना करें। जब कॉल लग जाए तभी कान पर मोबाइल फोन लगाएं। रिगिंग के दौरान रेडिएशन ज्यादा तेज हो जाते हैं। 

- बच्चों और मरीजों से मोबाइल दूर रखें क्योंकि उन पर रेडिएशन का प्रभाव ज्यादा जल्दी होता है।

-बहुत सारे लोग फ्री टाइम या ट्रेवलिंग के दौरान गेम्स खेलना पसंद करते हैं और घंटों तक इसी में आंखें गढ़ाए रहते हैं। इससे एक तो आंखों पर बुरा असर पड़ता है दूसरा उनकी बॉडी रेडिएशन के संपर्क में भी ज्यादा देर रहती है जो सेहत के लिए नुकसानदायक है।

 

- वंदना डालिया



यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!