पिता की यहीं गलतियां बेटे को करती है उससे दूर!

Sunday, March 11, 2018 3:53 PM
पिता की यहीं गलतियां बेटे को करती है उससे दूर!

मां-बेटी के रिश्ते की तरह बाप-बेटे का रिश्ता भी बहुत अनमोल होता है। जिस तरह मां अपनी बेटी की उम्र के हिसाब से उससे दोस्ती कर लेती है उसी तरह बेटे को भी अपने पिता की दोस्ती की जरूरत होती है लेकिन कुछ बातें बाप-बेटे में दोस्ती नहीं बनने देती। ऐसी बातें बाप-बेटे में दूरियां तो पैदा करती ही है, साथ ही में बेटे को गलत रास्ते पर चलने के लिए मजबूर कर देती है। जिसके कारण घर के सभी सदस्यों को बाद में पछताना पड़ता है। आज हम आपको ऐसी बातें बताने जा रहे हैं जो बाप-बेटे के रिश्ते में दरार पैदा कर देती है। अगर आप चाहते है कि आपका बेटा भी बेटी की तरह होनहार हो और गलत रास्ते पर न पड़े तो आप उसे कभी भी ये बातें न कहें और उस से फ्रैंडिली रहें।

1. तुम अभी नादान हो

PunjabKesari
बेटा कितना भी बड़ा हो जाए लेकिन पिता अपने बेटे को समझदार मानने को तैयार ही नहीं होता। पिता का यही मानना होता है कि बाप-बाप ही होता है और बेटा- बेटा ही रहता है। जब कभी बेटा घर के मामले में किसी तरह की सलाह देता है तो बाप उसे यहीं बात कह कर बैठा देता है कि तुम अभी नादान हो।

2. कब लेगा घर की जिम्मेदारी
बेटा जितना भी घर का काम जिम्मेदारी से करता हो लेकुन बाप का मानना यहीं रहता है कि इसे कोई भी काम करने को कहों कोई भी काम टाईम पर जिम्मेदारी से नहीं करता। इस वजह से बेटा हर्ट हो जाता है और उसका मन किसी भी काम में नहीं लगता। ऐसे में पिता को समझना चाहिए बेटे को अभी समझने में थोड़ा समय तो लगेगा।

3. तुम नहीं कर पाओगें ये काम

PunjabKesari
जब बेटा कभी हिम्मत करके यह कह देता है कि पिता जी यह काम मैं कर देता हूं, तो पिता यह कह कर उसका हौंसला तोड़ देता है कि तुम नहीं कर पाओगें यह काम। तुम्हारे बस की बात नहीं है। ऐसी बातें बेटे के दिल में बाप के प्रति प्यार खत्म कर देती है। जिससे वह अपने पिता से दूर होता जाता है।

4. ऐसे हैं तुम्हारे फ्रैंड्स
कुछ पेरेंट्स बेटे के फ्रैंड्स को लेकर भी तानाखाही करते रहते हैं। लड़को को अपने फ्रैडस से बहुत प्यार होता है। जिनके बारे में उन्हें बुराई सुननी अच्छी नहीं लगती और उनका मन पापा के प्रति चिड़चिड़ा हो जाता है।

5. आवारागर्दी के अलावा कोई काम नहीं

PunjabKesari
बेटा चाहे अपने स्कूल या घर के काम के लिए बाहर गया हो लेकिन उसके घर आते ही पापा का कहना होता है, तुम्हें बाहर आवारागर्दी करने के अलावा कोई काम नहीं होता। बाहर जाने का कोई मौका मिलते ही फ्रैंडस के साथ बातें करने बैठ जाता है। ऐसी बातों से बाप-बेटे में दरार बढ़ती जाती है और बेटा गलत रास्ते पर चलने लगता है।


 


फैशन, ब्यूटी या हैल्थ महिलाओं से जुड़ी हर जानकारी के लिए इंस्टाल करें NARI APP

आप को जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन