दवाओं के बिना ही करें इस तरह जोड़ों के दर्द का इलाज

Monday, July 10, 2017 10:12 AM
दवाओं के बिना ही करें इस तरह जोड़ों के दर्द का इलाज

पंजाब केसरी (सेहत) : दवाओं के बिना जोड़ों का दर्द का इलाज, उम्र बढ़ने के साथ ही जोड़ों में दर्द की समस्या हो जाती है जिसे गठिया कहते हैं। यह समस्या पुरूषों के मुकाबले महिलाओं में ज्यादा देखने को मिलती है लेकिन आजकल कम उम्र के लोगों को भी जोड़ों में दर्द हो जाता है। हड्डियां कमजोर होना और शरीर में यूरिक एसिड बढ़ने की वजह से यह समस्या हो जाती है। गठिया रोग होने पर जोड़ों में काफी तेज दर्द होता है जिसके लिए लोग कई तरह की पेनकिलर दवाओं का सेवन करते हैं लेकिन इन दवाइयों का अधिक सेवन करने की वजह से कई बार किडनी खराब हो सकती है। ऐसे में अपने आहार में जरूरी पोषक तत्वों को शामिल करना चाहिए। इसके अलावा और भी कई तरीके हैं जिससे जोड़ों के दर्द से राहत पाई जा सकती है।

 

जोड़ों का दर्द का इलाज
अदरक
जोड़ों के दर्द से राहत दिलाने में अदरक बहुत ही बढ़िया उपाय है। जिन लोगों को गठिया की समस्या हो उन्हें हर रोज दिन में दो बार अदरक का सेवन करना चाहिए।

फल और सब्जियां
 गठिया रोग होने पर ताजे फलों और सब्जियों के रस का सेवन करना चाहिए। लहसुन, मौसम्मी, संतरा और गाजर का जूस नियमित रूप से पीने से जोडो़ं के दर्द से राहत मिलती है।

फूल गोभी का रस
रोजाना फूल गोभी का रस पीने से भी जोड़ों के दर्द में फायदा होता है लेकिन जिन लोगों को गठिया के साथ थायराइड की समस्या भी हो उन्हें इस रस का सेवन नहीं करना चाहिए।

नींबू की मालिश
घुटनों में दर्द होने पर उस जगह नींबू के रस की मालिश करें। इससे सूजन और दर्द से तुरंत राहत मिलती है। इसके अलावा रोजाना नींबू पानी का सेवन भी कर सकते हैं।

गर्म पानी से नहाएं
जिस समय जोड़ों में तेज दर्द हो उस वक्त गर्म पानी से नहाएं जिससे जोड़ों को सेक मिलेगा और दर्द दूर होगा। इसके अलावा गर्म पानी की बोतल से सिंकाई भी कर सकते हैं।

ध्यान रखने योग्य बातें
कई लोग जोड़ों में दर्द होने पर मार्किट से मिलने वाले बाम का इस्तेमाल करते हैं लेकिन यह नुकसानदेह साबित हो सकता है। इसे लगाने से दर्द से तुरंत राहत तो मिल जाती है लेकिन यह धीरे-धीरे शरीर को नुकसान पहुंचाता है। इसके अलावा कभी भी बाम लगाने के बाद शरीर पर गर्म बोतल से सेंक न दें इससे जलन बढ़ जाती है।


 



यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!