बच्चे के प्राइवेट पार्ट की सफाई रखना भी है बहुत जरूरी

Sunday, January 7, 2018 12:53 PM
बच्चे के प्राइवेट पार्ट की सफाई रखना भी है बहुत जरूरी

नवजात शिशु काफी नाजूक होते हैं, इसलिए उनकी देखभाल करते समय काफी सावधानियां बरतनी पड़ती है। इतना ही नहीं उनके शरीर के अंग भी काफी संवेदनशील होते है, जिस वजह से शिशु को नहलाते समय और उनके प्राइवेट पार्ट की साफ-सफाई करते समय काफी बातों का ध्यान रखना पड़ता है, ताकि शिशु को किसी तरह की नुकसान न पहुंचे। जो महिलाएं पहली बार मां बनती है, वह अक्सर अपने नवजात शिशु को लेकर ऐसी गलतियां कर बैठती है। अगर आप भी पहली बार मां बनी है तो आज हम आपको शिशु को नहलाते समय उनके प्राइवेट पार्ट की सफाई करने के कुछ नियम बताएंगे, जो बच्चे की देखभाल के लिए काफी कमा भी आएगे। 

 

1. साफ करने का सही तरीका
बच्चे के प्राइवेट पार्ट की बाहरी स्किन को पानी से धोएं। सफाई के लिए असुंगधि​त बेब वाइप्स इस्तेमाल किया जा सकता है। हल्के हाथों से सफाई करें, ताकि उन्हे किसी प्रकार का कोई नुकसान न पहुंचे। 

2. नरम कपड़े का इस्तेमाल करें
किसी मुलायम कपड़े या तौलिए की मदद से प्राइवेट की सफाई करें। अगर आप पानी में सौम्य बेबी क्लींजर मिलाकर बच्चों को नहलाती है तो यह और भी अच्छी बात है। बच्चे को नैपी पहनाते और नहलाते समय उनके प्राइवेट पार्ट को अच्छे से साफ करें, ताकि वहां किसी प्रकार की गंदगी न लगी रह जाए, जिससे बच्चे को इंफैक्शन होने का खतरा रह सकता है। 

3. गुनगुने पानी से साफ करें
नवजात शिशु के प्राइवेट पार्ट को गुनगुने पानी के साथ साफ करें। इससे वहां की गदंगी भी अच्छे से साफ हो जाएगी। खासकर सर्दियों में बच्चे को नहलाते समय गुनगुने पानी का ही इस्तेमाल करें। ध्यान रखें कि पानी ज्यादा गर्म न हो इससे शिशु की स्किन जल सकती है। 

4. साबुन इस्तेमाल करने से बचें
शिशु के प्राइवेट पार्ट की सफाई करते समय साबुन का इस्तेमाल बिल्कुल न करें क्योंकि इससे शिशु के प्राइवेट पार्ट के पास वाली स्किन पर जलन पैदा हो सकती है। 
 


फैशन, ब्यूटी या हैल्थ महिलाओं से जुड़ी हर जानकारी के लिए इंस्टाल करें NARI APP

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!