प्रैग्नेंसी में करें 5 योगासन, मां और बच्चा दोनों रहेंगे स्वस्थ

Sunday, November 12, 2017 10:46 AM
प्रैग्नेंसी में करें 5 योगासन, मां और बच्चा दोनों रहेंगे स्वस्थ

मां बनने का एहसास हर महिला की जिदंगी का सबसे सुखद होता है। जब पहली बार मां अपने बच्चे को देखती है तो सभी दुख दर्द भूल जाती है। प्रैग्नेंसी के दौरान महिलाओं की बॉडी में कई हॉर्मोन्स बदलाव आते है, जिस उन्हें के प्रॉबल्म से गुजरना पड़ता है। प्रेग्नेंसी के दौरान महिलाएं योग करें तो उन्हें न सिर्फ परेशानियों से राहत मिलेगी बल्कि डिलीवरी आसान होगी। गर्भ में पल रहे बच्चे का विकास भी होगा। आज हम कुछ योगासान बताएंगे, जिन्हें प्रैग्नेंसी में करना काफी फायदेमंद है। 

 

तितली आसन

PunjabKesari
प्रैग्नेंसी में यह आसान करने से बॉडी की फ्लेक्सिबिलिटी बढ़ती है। डिलीवरी के दौरान तकलीफ कम होती है। 

कटि चक्रासन

PunjabKesari
इस आसन से दोनों बाजुओं, गर्दन तथा कमर की एक्‍सरसाइज होती है इस आसन को करने से पेट दुरुस्‍त रहता है, कब्‍ज की समस्‍या और तनाव कम होता है। 

अनुलोम विलोम

PunjabKesari
प्रैग्‍नेंसी में अनुलोम विलोम करने से बॉडी का ब्‍लड सर्कुलेशन ठीक रहता है। जिससे ब्‍लड प्रेशर कंट्रोल होता है। 

ताड़ासन
ताड़ासन प्रैग्‍नेंसी के शुरूआती छह महीने तक ही करना बेहतर होगा लेकिन इसे करने से ब्रेन के साथ-साथ मसल्‍स मजबूत होती हैं। साथ ही प्रैग्नेंट औरत हेल्दी रहती है। 

शवासन
शवासन करने से ना सिर्फ मानसिक शांति मिलती है बल्कि यह गर्भ में पल रहे शिशु के विकास के लिए भी काफी फायदेमंद है। 

फैशन हाे या ब्यूटी टिप, महिलाअाें से जुड़ी हर जानकारी के लिए डाउलनाेड करें NARI APP



यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!