ऐसी दमदार शख्सियत, जिन्होंने कमजोरी को ताकत बनाकर हासिल की सफलता

Thursday, December 7, 2017 10:35 AM
ऐसी दमदार शख्सियत, जिन्होंने कमजोरी को ताकत बनाकर हासिल की सफलता

दुनिया में बहुत से फेमस लोगों ने अपनी कड़ी मेहनत और हिम्मत से सफलता हासिल की लेकिन आज हम आपको कमजोर को ताकत बनाकर सफलता हासिल करने वाले कुछ दमदार लोगों के बारे में बताने जा रहे हैं। शारीरिक रूप से डिसेबल होने के बावजूद भी इन लोगों ने अपनी सफलता का मुकाम हासिल किया। तो आइए जानते है तो आइए जानते है ऐसी दमदार शख्सियत के बारे में जिन्होंने शारीरिक या मानसिक कष्ट होने के बावजूद भी हिम्मत नहीं हारी।

1. सुधा चंद्रन
17 साल की उम्र में एक सड़क हादसे में अपना बांया पैर खोने वाली सुधा चंद्रन ने नृत्य के साथ-साथ छोटे पर्दे पर भी खूब नाम कमाया। इसके अलावा इन्होंने 'नाचे मयूरी' में काम किया और राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार भी जीता।

PunjabKesari

2. भारत कुमार
50 मैडल अपने नाम कर चुके भरत कुमार पैरा स्विमर है। एक हाथ ना होने के बावजूद हिम्मत न हारने वाले भारत कुमार ने विदेशी प्रतिस्पर्धा में हिस्सा लेने के लिए दौरा किया और इंडिया का नाम रौशन किया।

PunjabKesari

3. अरूणिमा सिन्हा
विश्व की पहली महिला पर्वतारोही अरुणिमा सिन्हा ने एक पैर नकली होने के बावजूद भी हिम्मत नहीं हारी। दुनिया की सबसे ऊंची पर्वत चोटी एवरेस्ट पर चढ़ने वाली अरूणिमा सिन्हा को सबसे बड़े नागरिक सम्मान पद्मश्री से भी नवाजा गया है।

PunjabKesari

4. रविन्द्र जैन
बचपन से ही नेत्रहीन रविंद्र जैन ने दुनिया के सामने सफलता की एक अद्भुत मिसाल पेश की है। संगीत के दम पर अपना करियर बनाने वाले रविन्द्र जैन जी को आखिरी दम तक कभी काम की कमी नहीं हुई।

PunjabKesari

5. दीपा मलिक
भारत के महान एथलीट में से एक दीपा मलिक पैरालंपिक मेडल जीतने वाली पहली भारतीय महिला है। पैरों से डिसेबल होने के बावजूद भी दीपा ने शॉटपुट में छठे प्रयास में 4.61 का स्कोर बनाकर सिल्वर मेडल जीता था।

PunjabKesari

फैशन हाे या ब्यूटी टिप, महिलाअाें से जुड़ी हर जानकारी के लिए डाउलनाेड करें NARI APP



यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!